Wednesday, December 13, 2017
Tags स्त्री

Tag: स्त्री

पुरूष शब्‍द का अर्थ क्या है?

पुरूष शब्‍द का अर्थ ठीक से समझ ले। पुरूष का अर्थ यह मत समझ लेना कि जो नारी नहीं है। इस सुत्र को लिखने...

ओशो – परिस्थितियां ही अनुभव कराती है अच्छा या बुरा

एक घटना मुझे स्मरण आती हैं, कोरिया में एक भिक्षुणी स्त्री एक संन्यासीनी, एक रात एक गांव में भटकती हुई पहूंची । रास्ता भटक...

बुद्धत्व की अवस्थाएं

बुद्धत्व की दो अवस्थाएं: अर्हत और बोधिसत्व  बुद्धत्व की दो अवस्थाएं हैं। दो प्रकार से व्यक्ति बुद्धत्व को उपलब्ध हो जाता है। एक है, जिसको...

रांका और बांका की कहानी

मैंने सुना है, महाराष्ट्र की एक प्राचीन कथा है। रांका और बांका पति—पत्नी थे। रांका पति था, बांका उसकी पत्नी का नाम था। थी भी वह...

बिन गुरु मारग कौन बतावै

मीरां जब गई वृंदावन के एक मंदिर में, जहां कि स्त्रियों को आने की मनाही थी क्योंकि मंदिर का पुजारी बड़े विक्षिप्त रूप से...

स्‍त्री और पुरुष

हम कहानी सुनते हैं कि सत्यवान मर गया है, सावित्री उसे दूर से जाकर लौटा लायी है। लेकिन कभी कोई कहानी ऐसी सुनी कि...

स्‍त्री का अस्तित्व

पूरब की स्‍त्री गुलाम है। उसने कभी यह घोषणा ही नहीं की कि मेरे पास भी आत्मा है। वह चुपचाप पुरूष के पीछे चल पड़ती...

“कीर्ति” का अर्थ

कृष्ण कहते है! स्त्रिओ में मैं "कीर्ति" हूँ अगर स्त्री में भी परमात्मा की झलक पानी हो तो वो कहाँ पायी जा सकेगी , "कीर्ति"...

द्रौपदी या सीता

कौन हो भारतीय स्त्री का आदर्श एक छोटे से मजाक से महाभारत पैदा हुआ। एक छोटे से व्यंग से, द्रौपदी के कारण जो दुर्योधन के...